सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने कहा कि अभी चुनाव आयोग (Election Commission) ने तारीख तय करते हुए अधिसूचना जारी नहीं की है। आयोग परिस्थितियों के अनुसार उचित फैसला लेने सक्षम है।
बिहार में चुनाव होंगे या नहीं? सुप्रीम कोर्ट ने सुनाया फैसला

Patna. बिहार (Bihar) में मौजूदा हालातों को देखते हुए विधानसभा चुनाव (Assembly Election) पर रोक लगाने की याचिका पर सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) में सुनवाई हुई। इस मामले में कोर्ट ने याचिका को खारिज करते हुए चुनाव पर रोक लगाने से इंकार कर दिया है। सुप्रीम कोर्ट (Supreme Court) ने कहा कि अभी चुनाव आयोग (Election Commission) ने तारीख तय करते हुए अधिसूचना जारी नहीं की है। आयोग परिस्थितियों के अनुसार उचित फैसला लेने सक्षम है।

दरअसल, बिहार में कोरोना वायरस (Corona Virus) के संक्रमण और बाढ़ की वजह से बनी परिस्थितियों को देखते हुए आगामी विधानसभा चुनाव (Assembly Election) पर रोक लगाने को लेकर जनहित याचिका दायर की गयी थी। इस पर सुनवाई करते हुए न्यायमूर्ति अशोक भूषण की अध्यक्षता वाली पीठ ने कहा कि भारत निर्वाचन आयोग सभी चीजों पर विचार करेगा। यह समय से पूर्व दायर की गयी याचिका है क्योंकि आयोग ने विधानसभा चुनावों के लिए अब तक कोई अधिसूचना जारी नहीं की है।

गौरतलब है कि बिहार के कई जिले इस बार भी बाढ़ की चपेट में आए हैं, जिसकी वजह से लाखों लोग प्रभावित हुए हैं। दूसरी तरफ प्रदेश में कोरोना के मामले में तेजी से बढ़ते जा रहे हैं। प्रदेश में संक्रमण का आंकड़ा करीब 1 लाख 27 हजार है। इन हालातों को देखते हुए सुप्रीम कोर्ट में जनहित याचिका दायर कर आगामी बिहार विधानसभा चुनाव टालने की मांग की गयी थी। वहीं, आरजेडी समेत विपक्षी महागठबंधन के कई दल चुनाव कराने के पक्ष में नहीं हैं।

सितंबर में चुनाव की तारीखों के ऐलान की संभावना

बिहार विधानसभा (Bihar Assembly) का कार्यकाल 29 नवंबर को समाप्त हो रहा है। ऐसे में अक्टूबर-नवंबर में किसी समय चुनाव कराये जाने की संभावना है। जबकि कोरोना वायरस (Corona Virus) और बारिश के कारण कई उपचुनावों को टाला जा चुका है। अब तक चुनाव के किसी नए कार्यक्रम की घोषणा नहीं की गई है।

वहीं, कोरोना महामारी (Corona Epidemic) के मद्देनजर निर्वाचन आयोग (Election Commission) ने चुनाव कराने की नई गाइडलाइंस (New Guidelines) को मंजूरी दे दी है। नई गाइडलाइंस के मुताबिक चुनावी बैठक में सोशल डिस्टेंसिंग (Sociel Distancing) के नियमों का पालन करना होगा।

पूरी स्टोरी पढ़िए