प्रदेश की राजधानी लखनऊ के निराला नगर स्थित सरस्वती कुंज में प्रोफेसर राजेंद्र सिंह (रज्जू भैया) उच्च तकनीकी (डिजिटल) सूचना संवाद केंद्र में पांच दिवसीय प्रशिक्षण सत्र के दूसरे दिन शिक्षकों को आनलाइन शिक्षण कला के गुर सिखाए गए।
प्रो. रज्जू भैया सूचना संवाद केंद्र में प्रशिक्षण वर्ग के दूसरे दिन शिक्षकों को किया गया प्रशिक्षित

Lucknow. प्रदेश की राजधानी लखनऊ के निराला नगर स्थित सरस्वती कुंज में प्रोफेसर राजेंद्र सिंह (रज्जू भैया) उच्च तकनीकी (डिजिटल) सूचना संवाद केंद्र में पांच दिवसीय प्रशिक्षण सत्र के दूसरे दिन शिक्षकों को आनलाइन शिक्षण कला के गुर सिखाए गए। इस बैच में विद्या भारती के काशी प्रांत के सुलतानपुर, प्रयागराज और काशी संभाग के 36 शिक्षक शामिल हुए।

विद्या भारती पूर्वी उत्तर प्रदेश के क्षेत्रीय संगठन मंत्री हेमचंद्र जी ने कहा वर्तमान समय में आनलाइन शिक्षण की महत्ता बढ़ती जा रही है, लेकिन तमाम चुनौतियां भी है। शिक्षकों को इन चुनौतियों का सामना करते हुए नवाचारी होना होगा, ताकि बच्चों को अच्छी शिक्षा दे सकें। उन्होंने कहा कि नई शिक्षा नीति में भी शिक्षकों के प्रशिक्षण पर विशेष ध्यान देने की बात कही गई है।शिक्षकों को अपने विषयों में विशेषज्ञता प्राप्त करने के लिए अतिरिक्त मेहनत करने की जरूरत है। 

हेमचंद्र जी ने कहा कि विद्या भारती का उद्देश्य भारतीय संस्कृति के अनुसार बच्चे को संस्कारवान बनाना है। इसके साथ ही बच्चों को ऐसी शिक्षा देनी है, जिससे वह स्वाबलंबी बन सके। उन्होंने कहा कि शिक्षक का कार्य बच्चों को प्रेरणा देना और उन्हें प्रेरित कर सकने वाला बनाना है। विद्या भारती की शिक्षण पद्धति पंचपदी है। इस पद्धति में बच्चों को खेल—खेल में शिक्षित करना है। बच्चों को रटाना नहीं समझदार बनाना है।

प्रशिक्षण वर्ग का संचालन करते हुए दिनेश जी ने वर्तमान परिस्थितियों से उत्पन्न बदलावों और उनके शिक्षा पर पड़ने वाले प्रभावों पर चर्चा की। उन्होंने वर्तमान परिस्थिति में बच्चों तक गुणवत्तापूर्ण शिक्षा पहुंचाने के विभिन्न तरीकों पर प्रकाश डाला। इस दौरान आनलाइन शिक्षण को प्रभावी बनाने के लिए तकनीकि की बारीक जानकारियां दी गईं। प्रशिक्षु शिक्षकों ने अपने अनुभवों को भी साझा किया। इस अवसर पर डाॅ. शैलेश जी, उमाशंकर जी, सौरभ जी, राजेन्द्र बाबू जी, विक्रम बहादुर जी सहित विद्या भारती के कई अधिकारी और शिक्षक मौजूद रहे।

पूरी स्टोरी पढ़िए