रेपो रेट 4 फीसदी पर बरकरार, नहीं कम होगी आपकी EMI
रेपो रेट 4 फीसदी पर बरकरार, नहीं कम होगी आपकी EMI

New Delhi. आरबीआई मौद्रिक नीति समिति (MPC) बैठक में शुक्रवार को रेपो रेट में कोई बदलाव नहीं किया। बैठक के बाद आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने प्रेसवार्ता कर रेपो रेट 4 फीसदी पर बरकरार रहने की जानकारी दी। बैठक के बाद  शक्तिकांत दास ने कहा कि चालू वित्त वर्ष की दूसरी छमाही में अर्थव्यवस्था में तेजी आएगी और जनवरी-मार्च तिमाही में यह सकारात्मक दायरे में पहुंच सकती है, स्थिति में सुधार के संकेत दिखने लगे हैं। 

आरबीआई गवर्नर शक्तिकांत दास ने कहा कि अप्रैल- जून तिमाही में अर्थव्यवस्था में आई गिरावट अब पीछे रह गयी है और अर्थव्यवस्था में उम्मीद की किरण दिखने लगी है। मुद्रास्फीति भी 2020-21 की चौथी तिमाही में कम होकर तय लक्ष्य के दायरे में आ सकती है। इस दौरान दास ने यह भी कहा कि चालू वित्त वर्ष में अर्थव्यवस्था में 9.5 फीसदी की गिरावट आ सकती है। 

रेपो रेट में बदलाव न होने का मतलब ये हुआ कि ईएमआई या लोन की ब्याज दरों पर नई राहत नहीं मिलेगी। रेपो रेट में कुछ बदलाव होगा, इस बात की उम्मीद पहले से भी कम थी। अगस्त में भी पॉलिसी रेट में कोई बदलाव नहीं हुआ था। हालांकि फरवरी 2019 से अब तक रेपो रेट में 2.50 फीसदी की बड़ी कटौती हो चुकी है। 

पूरी स्टोरी पढ़िए