देश (India) की राजधानी दिल्ली (Indian Capital New Delhi) को दहलाने की साजिश लिए आईएसआईएस (ISIS) के आतंकियों के मंसूबों को दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने नाकाम कर दिया है।
दिल्ली दहलाने की साजिश नाकाम, पुलिस ने ISIS के एक आंतकी को किया गिरफ्तार

New Delhi. देश (India) की राजधानी दिल्ली (Indian Capital New Delhi) को दहलाने की साजिश लिए आईएसआईएस (ISIS) के आतंकियों के मंसूबों को दिल्ली पुलिस (Delhi Police) ने नाकाम कर दिया है। दिल्ली के धौला कुआं रिंग रोड के पास दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल और आईएसआईएस के आतंकियों के बीच इनकाउंटर (encounter) में एक आतंकी को गिरफ्तार कर लिया गया है। जबकि उसका एक साथी फरार बताया जा रहा, जिसकी गिरफ्तारी के लिए छापेमारी की जा रही है। घटना स्थल पर एनएसजी की स्पेशल ग्रुप और डॉग स्क्वायड को तैनात कर दिया गया है। दिल्ली समेत आसपास  राज्यों में हाई अलर्ट घोषित कर दिया गया है।

गिरफ्तार हुए आतंकी की पहचान अबू युसुफ (Abdul Yusuf) के रूप में हुई, जो उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) के बलरामपुर (Balrampur) का रहने वाला है। अबू युसुफ के पास से एक पिस्टल और दो आईईडी (IED) बरामद की गई हैं। पुलिस की एक टीम बलरामपुर में छापेमारी कर रही है। 

सूत्रों के मुताबिक ये आतंकी दिल्ली में बड़ी आतंकी घटना को अंजाम देने के फिराक में थे। आईएसआईएस के आतंकियों ने दिल्ली में लोन वुल्फ अटैक (lone wolf attack) का प्लान बनाया था। इनके निशाने पर दिल्ली की कुछ बड़ी हस्तियां थीं। वहीं दिल्ली पुलिस को जानकारी मिली है कि दिल्ली में कुछ लोग इन आतंकियों को हथियार व संसाधन मुहैया करा रहे थे। पुलिस इनकी तलाश में लगातार छापेमारी कर रही है और कई लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

बता दें कि गुरुवार को जैश के तीन आतंकियों के दिल्ली में घुसने का अलर्ट मिला था। इसमें कहा गया था कि पाकिस्तान (Pakistan) की खुफिया एजेंसी आईएसआई (ISI) के निशाने पर ये आतंकी दिल्ली में बड़ा हमला करने की तैयारी में दाखिल हुए हैं। इनके निशाने पर कोई बड़ा नेता है। गृह मंत्रालय ने बताया था कि यह आतंकी सियालकोट के रास्ते दिल्ली में घुसे हैं और इनके नाम शकील अहमद, जुमान खान व गुलजान बताया है। बताया जा रहा है कि जैश के मुखिया मुफ्ती अब्दुल रऊफ ने इनको आतंकी हमले के निर्देश दिए हैं और आतंकी पहचान छिपाने के लिए अफगानिस्तान समेत कई देशों की आईडी का भी इस्तेमाल कर सकते हैं।

https://twitter.com/ANI/status/1297029527718125568

बता दें कि राम मंदिर निर्माण (Ram Mandir Nirman) के बाद से ही भाजपा (BJP) और आरएसएस (RSS) के नेता आाईएसआई के निशाने पर हैं। इसके तहत गृह मंत्रालय ने दिल्ली पुलिस समेत कई एजेंसियों से देश भर के नेताओं की सुरक्षा ऑडिट कराया है। आतंकी हमलों की सूचना मिलने के बाद दिल्ली में सुरक्षा बढ़ा दी गई है। महत्त्वपूर्ण इमारतों, जगहों और भीड़ भाड़ वाले बाजारों में नजर रखी जा रही है। 

पूरी स्टोरी पढ़िए