देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामले तेजी के साथ बढ़ते हुए 32.28 लाख के पार पहुंच चुके हैं। करीब 60 हजार लोगों की मौत हो चुकी है।
वैक्सीन के लिए रूस के संपर्क में भारत, कोरोना के मामले 32.28 लाख के पार

New Delhi. देश में कोरोना वायरस (Coronavirus) के मामले तेजी के साथ बढ़ते हुए 32.28 लाख के पार पहुंच चुके हैं। करीब 60 हजार लोगों की मौत हो चुकी है। देश में प्रतिदिन करीब 60 हजार नए मामले सामने आ रहे हैं। अमेरिका और ब्राजील के बाद कोरोना के मामलो में भारत तीसरे नंबर पर है। वहीं, स्वास्थ सचिव राजेश भूषण ने कहा कि जहां तक रूस की ओर से विकसित Sputnik-5 वैक्सीन का संबंध है, तो भारत और रूस संपर्क में हैं। इसके लिए कुछ सूचना शेयर की गई है।

स्वास्थ सचिव राजीव भूषण के मुताबिक, देश में कोरोना वायरस के एक्टिव केस की तुलना में ठीक हुए मरीजों की संख्या 3.4 गुनी है और एक्टिव केस कुल मामले का 22.2 फीसदी है, जबकि रिकवरी रेट 75 फीसदी से पार पहुंच चुका है। उन्होंने बताया कि देश में कोरोना से मृत्यु दर 1.58 फीसदी पर आ गई है, जो विश्व में सबसे कम है। 

इसके अलावा उन्होंने बताया कि 2.70 फीसदी मरीज ऑक्सीजन पर हैं और 1.92 फीसदी मरीज आईसीयू में, जबकि 0.29 फीसदी मरीज वेंटिलेटर पर हैं। कोरोना से मरने वालों में 69 फीसदी पुरुष हैं और 31 फीसदी महिलाएं हैं। इसमें से 11 फीसदी लोग 26 से 44 साल के हैं, 36 फीसदी लोग 45 से 60 साल के और 51 फीसदी लोग 60 साल से ज्यादा के थे। वर्तमान समय में देश 1524 टेस्टिंग लैब हैं।

कोरोना वायरस से अब तक 24 लाख 66 हजार से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं, जबकि 7 लाख से ज्यादा लोग अभी भी संक्रमित हैं। महाराष्ट्र (Maharashtra) में कोरोना (Corona virus) के मामले 7 लाख के पार पहुंच चुके हैं, जिनमें से 5 लाख 14 हजार से ज्यादा लोग ठीक हो चुके हैं। तमिलनाडु (Tamilnadu) में 3 लाख 91 हज़ार से ज़्यादा मरीज सामने आ चुके हैं और 3 लाख 32 हजार से ज्यादा मरीज ठीक हो चुके हैं।

आंध्र प्रदेश (Andhra Pradesh) में 3 लाख 71 हज़ार से ज़्यादा मरीज सामने आ चुके हैं, जिनमें से 2 लाख 78 हजार से ज्यादा ठीक हो चुके हैं। कर्नाटक (Karnataka) में 2 लाख 91 हज़ार से ज़्यादा मरीज सामने आ चुके हैं, जिनमें से 2 लाख 4 हजार से ज्यादा ठीक हो चुके हैं। उत्तर प्रदेश (Uttar Pradesh) में एक लाख 97 हजार से ज्यादा मरीज सामने आ चुके हैं, जिनमें से 1 लाख 44 हजार से ज्यादा ठीक हो चुके हैं। 

पूरी स्टोरी पढ़िए