इन दिनों पूरा विश्व वायरस के संकट से जूझ रहा है। मगर दुनिया का सबसे ताकतवर मुल्क अमेरिका कोरोना वायरस के चपेट से कुछ ज्यादा ही तबाह हो गया है।
अमेरिका में आया चुनावी एग्जिट पोल: ट्रंप को लग सकता है बड़ा झटका, इस नेता के जीतने के आसार

वांशिगटन. इन दिनों पूरा विश्व वायरस (Covid-19) के संकट से जूझ रहा है, लेकिन दुनिया का सबसे ताकतवर मुल्क अमेरिका कोरोना वायरस (Covid-19) के चपेट से कुछ ज्यादा ही तबाह हो गया है। वहीं, इसी बीच चुनावी एग्जिट पोल आने के बाद अमेरिका में सरगर्मियां बढ़ गईं हैं। एग्जिट पोल के अनुसार, ट्रंप को भारी झटका लग सकता है। इस चुनाव में डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार और पूर्व राष्ट्रपति जोई बिडेन के चुनाव जीतने के आसार ज्यादा हैं।

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव पांच महीने बाद

अमेरिका में राष्ट्रपति चुनाव के पांच महीने बाकी हैं। कोरोना वायरस के कारण चुनावी कैंपेन बंद चल रहा है। एग्जिट पोल आने के बाद डेमोक्रेटिक पार्टी के उम्मीदवार जोई बिडेन के चुनाव जीतने के आसार ज्यादा हैं। अमेरिका में पिछले महीने से जोई बिडेन का नेतृत्व महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा है। 

जोई बिडेन का नेतृत्व महत्वपूर्ण भूमिका निभा रहा

जोई बिडेन राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ चुनाव मैदान में उतरे हैं, लेकिन रियल क्लियर पाॅलिटिक्स ने इस बार जोई बिडेन का 7.8 फीसदी प्वाइंट दिए हैं, जो मई की शुरुआत में मिले 5.3 फीसदी से काफी ज्यादा है। चार जून 2016 में आरसीपी (रियल क्लियर पॉलिटिक्स) के आंकड़ों के मुताबिक, हिलेरी क्लिंटन, डोनाल्ड ट्रंप से 1.5 प्वाइंट आगे थीं।

निजी एजेंसियों ने जारी किया आंकड़ा

राष्ट्रपति चुनाव के एग्जिट पोल को कई निजी एजेंसियों ने भी चुनावी आंकड़ों को जारी किया है। मैनमाउथ यूनिवर्सिटी, जिसमें 742 मतदाता रजिस्टर हैं। बिडेन को ट्रंप से 11 प्वाइंट ज्यादा मिलने की उम्मीद है। अमेरिका में 52 फीसदी मतदाता बिडेन के समर्थन में हैं जबकि 41 फीसदी डोनाल्ड ट्रंप को हटाना चाह रहे हैं।

अमेरिका में ट्रंप के खिलाफ लोगों में आक्रोश

अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के खिलाफ लोगों में आक्रोश है। इसी कारण वह चुनाव हारते हुए दिख रहे हैं। अमेरिका की आधी आबादी ट्रंप से नाखुश है। बताया जा रहा है कि ट्रंप से इसलिए लोग आक्रोश में हैं कि उन्होंने प्रदर्शनकारियों को रोकने के लिए काफी गुस्सैल तरीकों को अपनाया है।

पूरी स्टोरी पढ़िए