देश में आगामी त्योहारों, ठंड के मौसम और अर्थव्यवस्था की स्थिति को ध्यान में रखते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना के खिलाफ एक जन आंदोलन की शुरुआत की है।
कोरोना के खिलाफ में पीएम मोदी ने की 'जन-आंदोलन' की शुरुआत

New Delhi. देश में आगामी त्योहारों, ठंड के मौसम और अर्थव्यवस्था की स्थिति को ध्यान में रखते हुए पीएम नरेंद्र मोदी ने कोरोना के खिलाफ एक जन आंदोलन की शुरुआत की है। इस जन आंदोलन के तहत कोरोना संक्रमण से खुद और अपने परिवार को बचाने के लिए आम लोगों को शपथ दिलायी जाएगी। पीएम मोदी ने ट्वीट करके संदेश दिया कि जब तक दवाई नहीं तब तक ढिलाई नहीं।

पीएम नरेंद्र मोदी ने गुरुवार को ट्वीट करते हुए कहा, 'आइए, कोरोना से लड़ने के लिए एकजुट हों! हमेशा याद रखें: मास्क जरूर पहनें। हाथ साफ करते रहें। सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करें। ‘दो गज की दूरी’ रखें।' पीएम की इस नई मुहिम के दौरान नए जन-आंदोलन के माध्यम से 135 करोड़ देशवासियों को कोरोना के खिलाफ लड़ाई की शपथ दिलाई जाएगी और देशवासी कोरोना से बचने और अपने परिवार को बचाने का प्रण लेंगे। 

बता दें कि भारत में कोरोना वायरस के संपर्क में आ चुके लोगों की संख्या 67 लाख के पार हो गई है। राहत की बात ये कि देश में इलाज से ठीक होनेवालों का आंकड़ा भी लगातार तेजी से बढ़ रहा है। कोरोना के इलाज से ठीक होने वालों की दर 85.02 प्रतिशत पहुंच गई है। 

पूरी स्टोरी पढ़िए