पिछले दिनों भारत के साथ तनातनी के बीच चीन और नेपाल में करीबियां देखने को मिलीं। लेकिन नेपाल से दोस्ती का दिखावा करने वाला चीन अब उसी की जमीन पर कब्जा करने में जुटा हुआ है।
नेपाल की जमीन पर चीन के कब्‍जे का जोरदार विरोध

New Delhi. पिछले दिनों भारत के साथ तनातनी के बीच चीन और नेपाल में  करीबियां देखने को मिलीं। लेकिन नेपाल से दोस्ती का दिखावा करने वाला चीन अब उसी की जमीन पर कब्जा करने में जुटा हुआ है। जिसका अब नेपाल में विरोध शुरू हो गया है। नेपाल में बड़ी संख्‍या में लोग चीन के खिलाफ सडकों पर उतर आये हैं। 

मीडिया रिपोर्ट्स के मुताबिक नेपाल के हुमला इलाके में चीन के 9 बिल्डिंग्स के निर्माण किया है। जिसका नेपाल में जोरदार विरोध शुरू हो गया है। नेपाल में चीनी दूतावास के बाहर बड़ी संख्‍या में प्रदर्शनकरियों ने 'गो बैक चाइना' के नारे लगा रहे हैं। प्रदर्शनकारियों ने हाथों में बैनर ले रखा था जिस पर लिखा, 'बैक ऑफ चाइना'। इसके अलावा प्रदर्शनकारियों ने चीन से पुरानी संधि को लागू करने की भी मांग की। स्थानीय मीडिया के मुताबिक हुमला के सहायक मुख्य जिला अधिकारी दलबहादुर हमाल ने 30 अगस्त से 9 सितंबर तक हुमला के लापचा-लिमी क्षेत्र का निरीक्षण किया। इस दौरान उन्हें नेपाली जमीन पर चीन के बनाए हुए 9 बिल्डिंग्स दिखाई दिए। 

बता दें कि नेपाली पीएम केपी शर्मा ओली चीनी राष्ट्रपति शी जिनपिंग के साथ तेजी से अपनी दोस्ती को मजबूत कर रहे हैं। वहीं, ड्रैगन भी उनकी जमीन पर उसी तेजी के साथ कब्जा कर रहा है। चीन ने नेपाल के हुमला इलाके में कम से कम 9 बिल्डिंग्स का निर्माण किया है। नेपाली मीडिया में चीन के घुसपैठ की तस्वीरें वायरल होने के बाद ओली सरकार दबाव बनने लगा है। 

पूरी स्टोरी पढ़िए