अमेरिका के मिनियोपोलिस में मारे गए अश्वेत अमेरिकी जॉर्ज फ्लोएड का अंतिम संस्कार सम्पन्न हुआ। इस दौरान अमेरिका के उपराष्ट्रपति जो बिडेन से जॉर्ज की छह साल की बेटी ने अपने पिता की मौत को लेकर सवाल पूछा।
George Floyd की बेटी ने पूछा ऐसा सवाल, आसमंजस में पड़ गए अमेरिकी उपराष्ट्रपति

New Delhi. अमेरिका (America) के मिनियोपोलिस में मारे गए अश्वेत अमेरिकी जॉर्ज फ्लोएड (Black American George Floyd) का अंतिम संस्कार सम्पन्न हुआ। मंगलवार को सुबह 11 बजे नम आंखों से जॉर्ज को विदाई दी गयी। इस दौरान अमेरिका के उपराष्ट्रपति जो बिडेन (US Vice-President Joe Biden) ने वीडियो कॉलिंग के जरिए जॉर्ज के परिवार से बातचीत की और संवेदना व्यक्त की। लेकिन इस दौरान जॉर्ज की छह साल की बेटी (George's Daughter) ने उपराष्ट्रपति से कुछ ऐसा पूछ लिया। जिसका जवाब शायद उनके पास नहीं था। 

छह साल की बच्ची के सवाल पर आसमंजस में उपराष्ट्रपति

अमेरिकी उपराष्‍ट्रपति (US Vice-President) जो बिडेन ने वीडियो कॉलिंग के जरिए के जॉर्ज के परिवार के प्रति अपनी संवेदना व्‍यक्‍त कर रहे थे। तभी जॉर्ज की छह साल की बच्‍ची ने उनसे एक मासूम सा सवाल पूछा कि 'हमारे डैडी क्‍यों चले गए' ? यह सुनकर वह कुछ समय के लिए आसमंजस में पड़ गए। 

इसके बाद उपराष्‍ट्रपति ने बच्ची को यह समझाते हुए उसके आंसू पोछने की कोशिश की। उन्होंने कहा कि किसी भी बच्‍चे को ऐसा सवाल नहीं पूछना चाहिए जो कि बहुत सारे अश्‍वेत बच्‍चों को अपनी पीढ़ियों के लिए पूछना पड़ा है। 

उपराष्ट्रपति ने कहा कि तुम्‍हारे पिता के साथ न्‍याय होगा। अमेरिका में नस्‍लीय हिंसा का रास्‍ता साफ होगा। यह तब होगा जब 2020 के राष्‍ट्रपति चुनाव में डेमोक्रेटिक उम्मीदवार (Democratic Nominee) की राष्‍ट्रपति बनेगा। 

ह्यूस्टन में हुआ जॉर्ज का अंतिम संस्कार

नम आंखों के साथ दक्षिणी अमेरिकी शहर ह्यूस्टन में जॉर्ज फ्लॉयड का अंतिम संस्कार किया गया। जॉर्ज ने अपने जीवन का अधिकांश समय ह्यूस्टन (Houston) में ही बिताया था। यह उसका गृह जनपद था। उसका बचपन भी यहीं बीता। मंगलवार को सुबह 11 बजे घर के लोगों ने शव के अंतिम संस्‍कार की प्रक्रिया एवं रस्में पूरी की। साथ ही जॉर्ज की आत्मा की शांति के लिए अंतिम प्रार्थना की। इस दौरान घर में निकट संबंधियों एवं मित्रों के आने का तांता लगा रहा।

कैसे हुई जॉर्ज फ्लॉयड की मौत

बीते 25 मई को मिनियापोलिस पुलिस ने मिनेसोटा (Minnesota) में 46 वर्षीय जॉर्ज फ्लॉयड को नकली नोट चलाने के आरोप में हिरासत में लिया था। वहीं, पुलिस हिरासत (Police Custudy) के दौरान श्वेत पुलिस अधिकारी डेरेक चाउविन ने जॉर्ज की गर्दन पर लगभग नौ मिनट के लिए अपना घुटना रखा था जिसके बाद जॉर्ज को सांस लेने में दिक्कत होने लगी थी और उसकी मौत हो गयी। 

पूरी स्टोरी पढ़िए