सैफ अली खान को लोग उनकी फिल्मों से भी ज्यादा उनके पटौदी के नवाब होने के कारण जानते हैं। उनका पटौदी पैलेस शानदार इतिहास का गवाह रहा है।
बेहद शानदार है सैफअली खान का 800 करोड़ का 150 कमरों वाला पटौदी पैलेस, देखें खूबसूरत तस्वीरें

Mumbai. सैफ अली खान (saif ali khan) को लोग उनकी फिल्मों से भी ज्यादा उनके पटौदी के नवाब होने के कारण जानते हैं। उनका पटौदी पैलेस (pataudi palace) शानदार इतिहास का गवाह रहा है। सैफ को यह पैलेस मंसूर अली खान पटौदी (Mansoor Ali Khan Pataudi) के इंतकाल के बाद मिला इससे पहले यह किराए पर था। 

पटौदी हाउस को इब्राहिम कोठी (Ibrahim Kothi) के नाम से भी जाना जाता है। हरियाणा (Haryana) के गुरुग्राम जिले में पटौदी हाउस की पहचान शहाना और शानदार इंटीरियर के तौर पर होती है। दीवारों पर खूबसूरत पेटिंग्स और आर्ट वर्क पैलेस की शान में चार चांद लगाते हैं। पैलेस के इर्द गिर्द खूबसूरत पौधों के भरा बगीचा अपनी हरियाली का नमूना बिखेरता है। 

पैलेस में हैं 150 कमरे

10 एकड़ में फैले इस शानदार पैलेस में 150 कमरे सहित सात ड्रेसिंग रूम, सात बेडरूम, सात बिलियर्ड रूम, शानदार ड्राइंड और डाइनिंग रूम हैं। इस संपत्ति की बाजारू कीमत करीब 800 करोड़ रूपये आंकी गयी है। 

दिल्ली के औपनिवेशिक हवेली (Colonial Haveli) की तर्ज पर पटौदी पैलेस को बनवाया गया था। इसको रॉबर्ड टोर रसेल ने 1900 के आसपास डिजायन किया था। उनके काम में ऑस्ट्रेलिया के आर्किटेक्ट कार्ल मोल्ट्ज वोन हेंज (Architect Karl Moltz won Heinz) ने सहायता की।

पैलेस को वापस हासिल करने के बाद सैफ ने इसे अपने हिसाब से फिर से बनवाया था। इसके डिजायन में बदलाव के लिए उन्होंने इंटीरियर डीजायनर दर्शिनी सिंह (Designer Darshini Singh) की मदद ली थी। 

पैलेस के बारे में बात करते हुए सैफ कहते हैं, “जब मेरे पिता का इंतेकाल हुआ तब उसे निमराना होटल को किराए पर दे दिया गया। अमन और फ्रांसिस होटल को चलाया करते थे। फ्रांसिस की मौत के बाद सैफ ने महल को अपने कब्जे में लेने की कोशिश की। इसके बदले उनसे बड़ी रकम की मांग की गई।”

उन्होंने आगे कहा पैलेस भले ही मुझे विरासत में मिला है लेकिन मैंने इसे दोबारा अपने कमाए हुए पैसों से हासिल किया है। अब सैफ, करीना कपूर खान (Kareena Kapoor Khan) अपने बेटे तैमूर अली खान (Taimur Ali Khan) के साथ हर साल पैलेस जाते हैं। परिवार ने तैमूर का जन्मदिन भी पटौदी पैलेस के गार्डन में मनाया था पटौदी महल अंदर और बाहर से अपने नवाबी अंदाज की मिसाल पेश करता है। 

पूरी स्टोरी पढ़िए