प्रदेश की राजधानी लखनऊ के निराला नगर में सरस्वती कुंज परिसर स्थित प्रोफेसर राजेंद्र सिंह (रज्जू भैया) उच्च तकनीकी (डिजिटल) सूचना संवाद केंद्र में कानपुर प्रांत के झांसी और कन्नौज संभाग से आए 35 शिक्षकों को दूसरे दिन भी प्रशिक्षण दिया गया।
प्रोफेसर राजेन्द्र सिंह 'रज्जू भैया' सूचना संवाद केंद्र में दूसरे दिन भी प्रशिक्षकों को दिया गया ​​प्रशिक्षण

Lucknow. प्रदेश की राजधानी लखनऊ के निराला नगर में सरस्वती कुंज परिसर स्थित प्रोफेसर राजेंद्र सिंह (रज्जू भैया) उच्च तकनीकी (डिजिटल) सूचना संवाद केंद्र में कानपुर प्रांत के झांसी और कन्नौज संभाग से आए 35 शिक्षकों को दूसरे दिन भी प्रशिक्षण दिया गया। बता दें कि यह ​​प्रशिक्षण कार्यक्रम 28 सितंबर से 02 अक्टूबर तक चलेगा। इस दौरान सभी शिक्षक निराला नगर स्थित सरस्वती कुंज परिसर में प्रवास कर रहे हैं।

कार्यक्रम के दूसरे दिन प्रशिक्षण की शुरुआत सरस्वती वंदना से हुई। इसके उपरांत विद्या भारती के क्षेत्रीय संगठन मंत्री हेमचंद्र जी ने मां सरस्वती के चित्र के समक्ष पुष्पार्चन एवं दीप प्रज्जवलन किया। कार्यक्रम के दौरान हेमचन्द्र जी ने उपस्थित आचार्य और प्राचार्यों से नई तकनीक पर चर्चा की। इसके साथ ही उन्होंने शिक्षकों से पूछा, प्रशिक्षण के दौरान क्या—क्या सीखने को मिला और क्या असुविधाएं हो रही हैं। इसके साथ ही उन्होंने वर्तमान तकनीक को और अच्छा बनाने के लिए शिक्षकों से सुझाव भी लिए हैं। 

इसके बाद उन्होंने प्रत्येक शिक्षक से बात की, जिसमें प्रशिक्षु शिक्षकों से प्रशिक्षण के पहले दिन दी गई जानकारियों के बारे में पूछा गया। इसके साथ नई जानकारियां भी दी गईं। यह प्रशिक्षण सत्र लगभग 45 मिनट तब चला। 

कार्यक्रम का समापन शांति मंत्र के साथ हुआ। कार्यक्रम में बालिका शिक्षा प्रमुख उमाशंकर मिश्र जी, अवध प्रांत के प्रदेश निरीक्षक राजेंद्र बाबू जी, क्षेत्रीय प्रचार प्रमुख सौरभ मिश्र जी, प्रशिक्षक अमिताभ बनर्जी जी और योगेश मिश्र जी के साथ ही कई लोग उपस्थित रहे।

पूरी स्टोरी पढ़िए