कोरोना संकट के कारण हिंदी के 70 और मराठी के 40 सहित कुल 110 धारावाहिक की शूटिंग रुकी हुई है। इससे 3 लाख कर्मचारियों का रोजगार प्रभावित हुआ है।
फिल्मों की शूटिंग के लिए अनुमति देने पर विचार कर सकती है महाराष्ट्र सरकार

महाराष्ट्र के मुख्यमंत्री उद्धव ठाकरे की सरकार मनोरंजन जगत की हस्तियों को सीमित स्वरूप में शूटिंग और पोस्ट-प्रोडक्शन की प्रक्रिया आरंभ करने की अनुमति देने पर विचार कर सकती है। बुधवार को ठाकरे ने फिल्म जगत के लोगों से संवाद में यह भरोसा दिया है। मुख्यमंत्री ने कहा कि सोशल डिस्टेंसिंग और दूसरे नियमों का पालन करते हुए शूटिंग शुरू करने के लिए निश्चित कृति प्रारूप तैयार किया जाए। इसके बाद सरकार शूटिंग की अनुमति देने पर विचार करेगी।

Source: Google Image

फिल्मसिटी में बने सेट के किराए में सहूलियत देने पर करेंगे विचार

मुख्यमंत्री ने कहा कि फिल्मसिटी में जो सेट बने हैं उनके किराए में सहूलियत देने पर विचार किया जाएगा। इसके अलावा लोककला और तमाशा कलाकारों को भी मदद करने को लेकर फैसला किया जाएगा। मुख्यमंत्री ने कहा कि केंद्र सरकार ने मई महीने के आखिरी में और जून महीने में बड़े पैमाने पर कोरोना के मरीजों की संख्या बढ़ने का अनुमान व्यक्त किया है। फिर भी सरकार ने कई कदम उठाए हैं। कोरोना संकट के कंटेनमेंट जोन के अलावा दूसरे इलाकों में थोड़े उद्योग, व्यवसाय और दुकानों को शुरू करने की अनुमति दी गई है।

कोरोना से रुकी है 110 धारावाहिकों की शूटिंग

फिल्म निर्माता नितिन वैद्य ने कहा कि कोरोना संकट के कारण हिंदी के 70 और मराठी के 40 सहित कुल 110 धारावाहिक की शूटिंग रुकी हुई है। इससे 3 लाख कर्मचारियों का रोजगार प्रभावित हुआ है। बैठक में अभिनेता सुबोध भावे, शिवसेना नेता व अभिनेता आदेश बांदेकर, एनसीपी सांसद डॉ. अमोल कोल्हे, फिल्म महामंडल के अध्यक्ष मेघराज राजे भोसले के अलावा राज्य के अतिरिक्त मुख्य सचिव आशिष कुमार सिंह, मुख्यमंत्री के प्रधान सचिव विकास खारगे, सांस्कृतिक कार्य विभाग के सचिव डॉ. संजय मुखर्जी मौजूद भी थे।

अभिनेता सुबोध भावे
पूरी स्टोरी पढ़िए