तीसरे विश्वयुद्ध की दस्तक! दो देशों के बीच जंग में महाशक्तियों की एंट्री के संकेत
तीसरे विश्वयुद्ध की दस्तक! दो देशों के बीच जंग में महाशक्तियों की एंट्री के संकेत

New Delhi. आर्मेनिया और अजरबैजान के बीच नागोर्नो-काराबाख इलाके पर कब्जे को लेकर जबरदस्त युद्ध चल रहा है। दोनों देश एक दूसरे पर जीत हासिल करने के लिए हथियारों का इस्तेमाल कर रहे हैं। इससे पहले भारत और चीन जैसे देशों में तनातनी कई महीनों से बरकरार है। वहीं, इन देशों के बीच युद्ध में अन्य देशों के समर्थन मिलने से तृतीय विश्व युद्ध की स्थिति बनी हुई है। 

दरअसल, अर्मेनिया और अजरबैजान में नागोर्नो-काराबाख इलाके पर कब्जे के लिए जंग शुरू हो गई है। आर्मेनिया ने मंगलवार को कहा कि अजरबैजान नागोर्नो-काराबाख इलाके पर कब्जा करने के लिए लंबी दूरी और अधिक विनाशकारी प्रकार के तोपखाने का उपयोग कर रहा है। आने वाले दिनों में इस जंग के बड़ा रूप लेने की आशंका है, क्योंकि रूस इसमें एंट्री लेने वाला है। दूसरी तरफ तुर्की मुस्लिम देश अजरबैजान की पैरवी का कर रहा है। 

दोनों देशों ने सीमा पर सैनिकों को इकट्ठा करना शुरू कर दिया है। अर्मेनिया ने अजरबैजान के चार हेलिकॉप्टरों को मार गिराने का दावा किया है। संकट को देखते हुए अजरबैजान के कुछ क्षेत्रों में मार्शल लॉ लगाने के साथ ही प्रमुख शहरों में कर्फ्यू के आदेश भी दिए गए हैं। 

पूरी स्टोरी पढ़िए