मुख्य समाचार
ATM से निकले चूरन वाले नोट शेयर बाजारों के शुरुआती कारोबार में तेजी CM के. चंद्रशेखर ने सरकारी खर्च पर बालाजी मंदिर में चढ़ाए साढ़े 5 करोड़ के गहने एक महीने से सीवेज का पानी पिला रहा जलकल चीन ने दक्षिण चीन सागर में किया प्रयोगशाला का निर्माण चौथे दौर में 12 जिलों की 53 विधानसभा सीटों पर मतदान कल रिलायंस जियो (Jio) की पेशकश से नाराज वोडाफोन (Vodafone) ने कहा- रूल तोड़ा ब्रिटेन में जनगणनाः सिख और कश्मीरियों के लिए नई श्रेणी बनाने पर विचार फरक्का बांध को बंद करने की नीतीश कुमार की मांग पर सुशील मोदी ने उठाए सवाल मुख्यमंत्री- तिरुपति बालाजी को चढ़ाएंगे 5.45 करोड़ रुपये के गहने जयशंकर बीजिंग यात्रा पर, चीनी अधिकारी से की मुलाकात 1 करोड़ में मिल रहा है यह टूटा iPhone 4S आईपीएल: क्यों नही मिला इशांत और इरफान जैसे खिलाड़ियों को कोई खरीदार होर्डिंग लगा रहे युवक की करंट से मौत नगर निगम SMS से रोकेगा फर्जीवाड़ा 10 कलाकारों की कृतियों को 3 मार्च को मिलेगा सम्मान 7वां वेतन आयोग : इन विभागों के कर्मचारियों को देर से मिली खुशी, साथ में गम भी वृद्घ दंपति की गला रेत कर हत्या टेस्ट रिपोर्ट HIV पॉजिटिव निकली तो दंपति ने की खुदकुशी मुकेश अंबानी रिलायंस जियो को लेकर कर सकते हैं आज महत्वपूर्ण ऐलान ब्राजीलियाई पुलिस ने कहा, पूर्व राष्ट्रपतियों ने जांच में बाधा डाली IPL में भी कप्तानी नहीं करेंगे धोनी,अजहर बोले- यह घटिया फैसला है अफगानिस्तान ने 85 आतंकवादियों की लिस्ट की पाकिस्तान के हवाले फिल्म इत्तेफाक की शूटिंग शुरू श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स अपनी योग्यता साबित करें: राष्ट्रपति प्रणब मुखर्जी

12 Views

भिलाई निगम के पूर्व सभापति को गुंडों ने लात-घूसों से पीटा


AMIT SINGH 23/12/2016 12:24

भिलाई ।  कैलाश नगर कुरुद स्थित प्रियदर्शिनी गृह निर्माण समिति की ईडब्ल्यूएस और ओपन लैंड की जमीन को कूटरचित दस्तावेजों के आधार पर बेचने की शिकायत पर जांच के लिए पहुंची राजस्व विभाग की टीम के सामने ही गुंडों ने शिकायतकर्ता निगम के पूर्व सभापति राजेन्द्र सिंह अरोरा को बेदम पीटा। बदमाश एक कार से मौके पर पहुंचे और अरोरा को गाली देते हुए लात और घूसों से पिटाई शुरू कर दी।

इसके बाद सभी मौके से भाग ख डे हुए। गंभीर घायल अरोरा को छावनी चौक स्थित एसएस अस्पताल लाया गया। जहां उनकी गंभीर स्थिति को देखते हुए स्पर्श अस्पताल रेफर कर दिया गया है। वर्तमान में उन्हें आईसीयू में वेंटिलेटर पर रखा गया है।

उल्लेखनीय है कि इस मामले में शिकायत के बाद 12 दिसंबर को राजस्व विभाग द्वारा गठित टीम मौके

पर जमीन की नपाई के लिए पहुंची थी, लेकिन एक भूखंड की मालकिन राधा मित्तल ने अपने भूखंड पर स्टे ऑर्डर दिखा दिया। इस पर टीम वापस लौट गई थी। इसके बाद उक्त टीम और निगम के भवन अनुज्ञा शाखा के अधिकारी गुरुवार को फिर से जमीन की नपाई करने के लिए पहुंचे थे।

दोपहर करीब 1 बजे जांच टीम मौके पर पहुंची और नक्शे और राजस्व रिकॉर्ड का मिलान करने लगी। टीम जमीन का भौतिक सत्यापन शुरू करने ही वाली थी कि एक कार में चार व्यक्ति मौके पर पहुंचे। चारों ने मौके पर खड़े पूर्व सभापति राजेन्द्र सिंह अरोरा से गाली गलौज की और मारपीट शुरू कर दी।

मारपीट के दौरान अरोरा जमीन पर गिर पड़े तो चारों ने उन्हें लात और घूसों से पीटना शुरू कर दिया। कुछ देर बाद एक हमलावर अरोरा को बालों से खींचता हुए दूसरी तरफ ले गया और फिर मारा। मारपीट के दौरान एमआईसी सदस्य डॉ. दिवाकर भारती और राजेन्द्र अरोरा के दोस्त राजा सैमुअल ने बीच बचाव की भी कोशिश की, लेकिन गुंडों ने एक न सुनी और अरोरा को पीटते रहे। मारपीट के बाद चारों गुंडे मौके से भाग गए।

गुंडों ने जब राजेन्द्र अरोरा से मारपीट शुरू की तो उस समय टीम में शामिल राजस्व निरीक्षक कोहका देवकुमार कुर्रे, त्रिभुवन वर्मा, तुकाराम डहरे, पटवारी सुशील धार्मिक, दुलारू राम लहरे और देवचरण टंडन सहित निगम के भवन अनुज्ञा शाखा के अधिकारी भी मौके पर उपस्थित थे, लेकिन किसी ने भी मारपीट को रोकने की कोशिश नहीं की।

 



कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया