मुख्य समाचार
आलू, प्याज और टमाटर के दामों में गिरावट की कोई उम्मीद नही जाट आंदोलन-हरियाणा सरकार देगी मुआवजा जैसलमेर में बम गिरने से मचा हड़कंप, पुलिस मौके पर कुशीनगर-बिजली न मिलने के कारण मतदान का बहिष्कार सब्जियों से सीखें ईजी पेंटिंग तीसरे चरण के VIP उम्मीद्वार विवाह की लग्न शुरु होने से सोने-चांदी के दाम में तेजी इंदौर में सार्क देशों की लोकसभा अध्यक्षों का सम्मेलन जारी साईकिल पर सवार दिखे अखिलेश इन्साफ और हक की लड़ाई के लिये एकजुट होकर वोट करे जनता : ओलमा कमेटी तमिलनाडु विधानसभा में भारी हंगामे के बीच सीएम पलानीसामी ने जीता विश्वास मत प्रियंका गांधी के बेटे का आंखों का इलाज हुआ एम्स में मौत से जंग लड़ रहा सीआरपीएफ का चीता भारत में 2020 तक खसरे को खत्म करने और रूबेला को नियंत्रित करने की योजना ऑनलाइन फ्रॉड का मामला,लखनऊ लाया गया अनुभव मित्तल शहाबुद्दीन को कड़ी सुरक्षा के लिए दिल्ली की तिहाड़ जेल में भेजा गया चैरिटी शो पर रैंप वॉक करेंगे जीतेंद्र-अरबाज CM नीतीश शहाबुद्दीन को फूटी आंख नहीं सुहाते, लालू को बताया था अपना नेता 30 सालों से मठरी केन्द्र की गुणवत्ता बरकरार :कविता भटनागर बलरामपुर अस्पताल में कर्मचारियों का हंगामा, नहीं मिला वेतन अमेरिका में आया तूफान, सैकड़ों उड़ानें रद्द, राजमार्ग बंद पटना-हाजीपुर का सफर अब आसान हुआ, तेजस्वी ने किया पीपा पुल का उद्घाटन सार्वजनिक किया जाए नाथूराम गोडसे का बयान- CIC ने दिया आदेश टूटी पटरी पर रात-भर दौड़ती रही ट्रेनें, फिर टला बड़ा रेल हादसा मेरठ-HT लाइन की चपेट में आने से महिला समेत 2 की मौत ई-वीजा लेकर भारत आने वाले विदेशी पर्यटकों को मिलेगा मुफ्त सिमकार्ड पाक सीनेट में पास हुआ हिंदू मैरिज बिल, हिंदुओं का पहला पर्सनल लॉ ऋचा ने कहा, गैंग्स ऑफ वासेपुर से बहुत कुछ सीखा तमिलनाडु विधानसभा 3 बजे तक के लिए स्थगित कैलिफोर्निया में तूफान से सैकड़ों उड़ानें रद्द, एक की मौत शाओमी के नए वाइस प्रेसिडेंट बने मनु कुमार जैन पुरस्कार जीतने के लिए फिल्में नहीं बनाता : अरबाज खान भारत का ज्वालामुखी हुआ सक्रिय, 150 साल से था शांत टैक्स चोरी पर 100 खबरें, टेनिस पर चुप मिडिया :सानिया मिर्जा कैरेबियाई नेताओं ने ट्रंप की आव्रजन नीति पर चिंता जाहिर की एडोल्फ हिटलर के फोन की नीलामी GST परिषद की बैठक आज शहाबुद्दीन-पप्पू यादव के बाद क्या बिहार के ये 5 बाहुबली भी पहुंचेंगे तिहाड़? ट्रिपल मर्डर आरोपी उदयन ने बनवाया था मां का फर्जी सर्टिफिकेट किंगफिशर की संपत्तियों की नीलामी के लिए आरक्षित मूल्य घटाया नसीरुद्दीन शाह के साथ काम करने का सपना साकार : सयानी गुप्ता नोटबंदी के असर से मंदिर भी नहीं रहें अछूते,महंगे हो सकते हैं दर्शन अपना संस्मरण प्रकाशित नहीं करूंगा : मिक जैगर अनुप्रिया-कलराज ने की जनसभा बाइक चोरी में पकड़े गए दो बदमाश

17 Views

खोड़ा और परांजपे को छोड़ना पड़ सकता है सिलेक्टर का पद


NAZO ALI SHEIKH 03/01/2017 17:10

नई दिल्ली- लोढ़ा समिति के सुधारों को लागू करने के आदेश के बाद राष्ट्रीय चयन पैनल से गगन खोड़ा और जतिन परांजपे को अपने पद छोड़ने होंगे क्योंकि वे तय शर्तों को पूरा नहीं करते।लोढ़ा सुधारों के अनुसार सीनियर चयनसमिति तीन सदस्यीय होनी चाहिए और उसमें सभी टेस्ट खिलाड़ी होने चाहिए।

बीसीसीआई ने सितंबर में जब चयन पैनल घोषित किया था तब अब बर्खास्त किए गए अध्यक्ष अनुराग ठाकुर और सचिव अजय शिर्के ने लोढ़ा पैनल की सिफारिशों को नजरअंदाज कर दिया था, क्योंकि उच्चतम न्यायालय ने तब तक अपना अंतिम फैसला नहीं दिया था। नई समिति का कभी कोई औपचारिक अनुबंध नहीं रहा।

ऐसे में अब इंग्लैंड के खिलाफ वनडे और टी20 सीरीज के लिए एमएसके प्रसाद, देवांग गांधी और शरणजीत सिंह टीम का चयन करेंगे। ये सभी पूर्व टेस्ट खिलाडी हैं। टीम का चयन 5 जनवरी को होगा।

लोढ़ा समिति की शर्तों के अनुसार बीसीसीआई की सीनियर चयन समिति में केवल टेस्ट क्रिकेटर होने चाहिए। खोड़ा ने 2 वनडे और परांजपे ने 4 वनडे खेले हैं और इस तरह से वे उच्चतम न्यायालय से नियुक्त समिति द्वारा तय की गई शर्तों को पूरा नहीं करते।

संयुक्त सचिव अमिताभ चौधरी ने कहा, ‘मुझे अभी देखना होगा कि नए नियम क्या होंगे। अमूमन सचिव सीनियर टीम का समन्वयक होता है। उनकी अनुपस्थिति में संयुक्त सचिव बैठक बुलाता है।

बोर्ड के अधिकारियों का मानना है कि खोड़ा और परांजपे के अब तक के अच्छे काम को देखते हुए उन्हें प्रतिभा समन्यवक बनाया जा सकता है। इसके लिए टेस्ट क्रिकेटर होना जरूरी नहीं है और खोड़ा और परांजपे इसमें फिट बैठ सकते हैं।

13201744131AMखोड़ा_और_परांजप1



कमेंट करें

अपनी प्रतिक्रिया दें

आपकी प्रतिक्रिया