लखनऊ (Lucknow) के पुलिस कमिश्नर (Police Commissioner) सुजीत कुमार पांडेय (Sujit Kumar Pandey) शनिवार को एक बैठक दौरान अचानक बेहोश हो गए।
मीटिंग में अचानक बेहोश हुए लखनऊ पुलिस कमिश्नर, डॉक्टर्स ने बतायी ये वजह

Lucknow. लखनऊ (Lucknow) के पुलिस कमिश्नर (Police Commissioner) सुजीत कुमार पांडेय (Sujit Kumar Pandey) शनिवार को एक बैठक दौरान अचानक बेहोश हो गए जिसके बाद बैठक में मौजूद लोगों में हड़कंप मच गया। वहीं, आनन-फानन में पुलिस कमिश्नर (Police Commissioner) को शहर में स्थित मेदांता हॉस्पिटल (Medanta Hospital) में भर्ती कराया गया। फिलहाल डॉक्टरों की ओर से पुलिस कमिश्नर की स्थित ठीक है। डॉक्टरों की टीम सुजीत पांडेय का सैंपल COVID-19 जांच के लिए भेजने पर विचार कर रही है।

फाइल इमेज

जानकारी के मुताबिक पुलिस कमिश्नर (Police Commissioner) सुजीत कुमार पांडेय (Sujit Kumar Pandey) की कुछ हफ्तों से तबीयत खराब थी, बावजूद इसके वह ड्यूटी (Duty) पर तैनात हैं। दरअसल, कोरोना काल (Corona Crisis) में उनके कंधों पर लखनऊ की अहम जिम्मेदारी भी है। इसलिए वह बिना छुट्टी लिए काम करते रहे। वहीं, लखनऊ में शनिवार की शाम सुजीत पांडेय स्मार्ट सिटी प्रोजेक्ट पर एक बैठक में हिस्सा ले रहे थे। इसी दौरान वह अचानक बेहोश हो गए। 

बता दें कि उत्तर प्रदेश में कोरोना के मामले 21 हजार पार गए हैं और राज्य में करीब 650 लोग इस महामारी की चपेट में आकर अपनी जान गंवा चुके हैं।

बीपी और शुगर लेवल गिरने से हुए बेहोश

कमिश्नर (Commissioner) की तबीयत को लेकर मेदांता अस्पताल (Medanta Hospital) के डॉक्टरों ने बताया कि बीपी (BP) और शुगर लेवल (Sugar level) गिरने की वजह से वह बेहोश हुए थे। फिलहाल वे पूरी तरह ठीक हैं। मेदांता अस्पताल के निदेशक डॉ. राकेश कपूर ने बताया कि वे अभी ठीक हैं और उनका एमआरआई कराया जा रहा है। 

पुलिस महकमे के अधिकारियों का कहना है कि पिछले कुछ समय से उनकी तबीयत पूरी तरह ठीक नहीं है, लेकिन कोरोना महामारी के कारण वे लगातार काम कर रहे हैं।