यूपी बोर्ड हाईस्कूल - इंटरमीडिएट परीक्षा 2020 का रिजल्ट पहली बार लखनऊ से जारी होगा जिसे प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा जारी करेंगे।
आखिर क्यों इस बार लखनऊ से ही जारी होंगे हाईस्कूल और इंटरमीडिएट की परिक्षाओं के रिजल्ट?

Lucknow. यूपी बोर्ड हाईस्कूल - इंटरमीडिएट परीक्षा 2020 (UP Board High School - Intermediate Examination 2020) का रिजल्ट पहली बार लखनऊ से जारी होगा जिसे प्रदेश के उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा जारी करेंगे। इससे पहले हमेशा बोर्ड के सभापति और सचिव हाईस्कूल और इंटरमीडिएट (High school and intermediate)  की परीक्षाओं के रिजल्ट जारी करते थे। 

लेकिन, ये परंपरा इस बार एक झटके में टूटती नजर आ रही है। इससे पहले बोर्ड के सभापति और सचिव में आपसी तालमेल न होने की वजह से दो बार लखनऊ माध्यमिक शिक्षा निदेशक (Lucknow Director of Secondary Education) के कार्यालय से परिणाम जारी हुए। 

2017 के बाद से नई सरकार के गठन के बाद, उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा (Deputy Chief Minister Dr. Dinesh Sharma)  ही बोर्ड परीक्षा के सभी कार्यक्रम लखनऊ से ही कराया करते थे। अब ऐसा पहली बार हुआ है जब लोकभवन से हाईस्कूल - इंटरमीडिएट का रिजल्ट घोषित किया जाएगा। 

यूपी बोर्ड से जुड़े अधिकारियों की मानें तो यूपी बोर्ड 2003 और 2007 में हाईस्कूल परीक्षा का परिणाम लखनऊ लोकभवन से जारी किया गया था, लेकिन इंटर का परिणाम बोर्ड मुख्यालय से ही जारी किया गया था। 

जारी होगा 51 लाख परीक्षार्थियों का रिजल्ट

यूपी बोर्ड परीक्षा 2020 में पंजीकृत कुल 5611072 परीक्षार्थियों में से 5130481 परीक्षा में शामिल हुए। इसमें हाईस्कूल में 3024632 परीक्षार्थी पंजीकृत थे, जिसमें से 279656 अनुपस्थित रहे, जबकि 2744976 शामिल हुए। इंटरमीडिएट में 2586440 परीक्षार्थी पंजीकृत थे, 200935 अनुपस्थित रहे जबकि 2385505 परीक्षा में शामिल हुए।